बीकानेर में नगर निगम ने गुरुवार को सड़कों पर पानी का छिड़काव किया।

0
16

बीकानेर में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस का आंकड़ा पार कर गया है। गर्मी का असर आखाबीज पर होने वाली पतंगबाजी पर भी साफ देखने को मिला है। सड़कों पर छाया सन्नाटा कर्फ्यू जैसा रहा। पारा बढ़ने के कारण नगर निगम ने शहर के कई क्षेत्रों में फायर ब्रिगेड गाड़ियों से पानी का छिड़काव किया है।

बीकानेर में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। बुधवार तक तापमान 43 डिग्री सेल्सियस से ऊपर निकला था और आज अधिकतम तापमान 45.2 डिग्री सेल्सियस तक आ गया है। अभी अक्षय तृतीया के दिन भी गर्मी से राहत मिलने के कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं। तापमान में इस बढ़ोतरी का असर बीकानेर स्थापना दिवस पर भी साफ देखने को मिला। जहां पारा बढ़ने के कारण पतंगबाज छत पर परेशान होते रहे। पतंगबाजी हुई लेकिन आम दिनों की तुलना में कम रही।

परकोटे में कम उड़ी पतंग

शहरी परकोटे के भीतर भी दोपहर में इक्का-दुक्का ही पतंग नजर आई। अब दोपहर ढलने के साथ ही लोग छतों पर पहुंचना शुरू हुए हैं। बीकानेर के आसमान में आज के दिन हजारों की संख्या में पतंगें धूप में भी डोलती नजर आती है लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो रहा है। बीती रात न्यूनतम तापमान भी बढ़ गया। न्यूनतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंच गया है। पिछले कुछ दिनों में पांच डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई है। अधिकतम और न्यूनतम दोनों तापमान सामान्य से ज्यादा है।

सड़कों पर हुआ पानी का छिड़काव

नगर निगम ने शहर के व्यस्ततम बाजारों और मुख्य मार्गों पीबीएम रोड, केईएम रोड़, रानी बाजार, जूनागढ़, स्टेशन रोड, जस्सूसर गेट रोड पर पानी का छिडक़ाव करवाया। फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को इस काम में लगाया गया है। तापमान जब जब इतना बढ़ेगा, तब तब शहर के मुख्य मार्गों पर पानी के छिड़काव के आदेश दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here