अब सपनों की उड़ान भर सकेगी एथेलेटिक्स ज्योति गोदारा बुरे दौर में भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना बनी वरदान

0
35

बीकानेर। राज्य स्तर तक खेल चुकी ज्योति ने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि तेज दौडऩे वाले उसके पैर एक दिन उठने से भी इनकार करने लगेंगे। लेकिन अब उम्मीदें फिर से जीवंत हो उठी हैं। लूणकरणसर के खोखराना गाँव की १५ वर्षीय ज्योति गोदारा का जटिल ऑपरेशन बुधवार को पीबीएम अस्पताल के चिकित्सकों द्वारा सफलतापूर्वक किया गया है। ज्योति के रीड की हड्डी की गली हुई सातवीं सर्वाइकल को निकाल कर केज इम्प्लांट किया गया है और मेरू कैनाल के अंदर तथा बाहर फैली गांठ को भी निकाल दिया गया है। लगभग 32000 रूपए के पैकेज वाली यह जटिल न्यूरो सर्जरी भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में बिल्कुल नि:शुल्क हुई। न्यूरो सर्जरी के विभागाध्यक्ष डॉ. दिनेश सोढ़ी के नेतृत्व वाले चिकित्सक दल में डॉ. कपिल पारीक, डॉ. साधना जैन व डॉ. संगीता सेठिया शामिल रहे। जैसा कि माँ इंदिरा देवी बताती हैं, ज्योति शुरू से ही खेल-कूद और पढ़ाई में आगे रही। बड़ी होकर एथेलेटिक्स में आगे तक जाना चाहती थी। करीब 1 माह पहले ज्योति का एक हाथ सुन्न होने लगा। कुछ दिनों में एक पैर भी सुन्न होने लगा। सीएचसी लूणकरणसर दिखाने पर उसे पीबीएम अस्पताल के न्यूरो सर्जरी विभाग को रेफर कर दिया गया। जांच में पता चला कि ज्योति की रीड की हड्डी की सातवीं सर्वाइकल गल गई है और मेरू कैनाल के अंदर व बाहर गाँठ अपने भी बन गई थी। जल्दी ही ऑपरेशन करने की आवश्यकता जताई गई। जटिल ऑपरेशन और खर्च के डर से परिवार के लोग सहम से गए थे। डॉ दिनेश सोढ़ी ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना की जानकारी देते हुए बताया ज्योति का ऑपरेशन योजना अंतर्गत निशुल्क हो जाएगा। गरीब किसान परिवार के लिए यह किसी जीवनदान से कम नहीं था। सफल ऑपरेशन के बाद अब पूरा परिवार खुश है। भामाशाह स्वास्थ्य बीमा जैसी कल्याणकारी योजना के लिए सरकार का धन्यवाद करते नहीं थकते। सीएमएचओ डॉ. देवेन्द्र चौधरी ने बताया कि पीबीएम अस्पताल, जिला अस्पताल सहित जिले के 9 निजी व 15 सरकारी अस्पतालों के माध्यम से आमजन को बीएसबीवाई का लाभ दिया जा रहा है। योजनान्तर्गत 30 हजार से 3 लाख तक की भर्ती-ऑपरेशन सेवाएं उन भामाशाह कार्डधारी परिवारों को नि:शुल्क दी जा रही हैं जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के लाभार्थी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here