बीकानेर में श्रीविश्वकर्मा सुथार समाज ने निकाली चेतावनी रैली

0
268

बीकानेर। साठिका विस्थापतों के पुनर्वास, दुलचासर गैंगरेप के तीन मुल्जिमों की गिरफ्तारी तथा डॉ. स्वाति बिन्नाणी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर को श्रीविश्वकर्मा सुथार समाज ने सोमवार सुबह रतन बिहारी पार्क से कलक्टरी तक चेतावनी रैली निकाली। जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक तथा अतिरिक्त संभागीय आयुक्त को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में अवगत कराया गया है कि ढाई माह पूर्व नोखा तहसील के साठिका गांव में एक जाति विशेष व उसके राजनेता द्वारा द्वेषतापूर्ण कार्यवाही कर प्रशासन द्वारा 70-75 परिवारों के आशियाने उजाड़ दिये लेकिन शासन प्रशासन द्वारा आश्वासन दिये जाने के बावजूद ना तो उन्हे मुआवजा दिया गया और ना ही पुर्नवास के लिये जमीन मुहैया कराई गई है। वहीं दुलचासर गांव में सुथार समाज की किशोरी को दबंगों द्वारा घर से उठाकर गैंगरेप कर रोही में फेक दिया। इस जघन्य वारदात के दो मुलजिमों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया अन्य दंबग मुलजिम अभी खुले घूम रहे है, पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त गाड़ी भी जब्त नहीं की है। इसी प्रकार मरूधरा नगर स्थित बिन्नाणी हॉस्पीटल की डॉ. स्वाति बिन्नाणी द्वारा जांगलू के मांगीलाल सुथार की प्रसूता श्रीमती सुशीला के ऑपरेशन में लापरवाही से एनस्थिसिया की अधिक डोज देकर मार डाला और पुलिस द्वारा उसे गिरफ्तार नहीं कर लीपा-पोती की जा रही है ज्ञापन में चेतावनी दी गई है कि इन तीनों प्रकरणों में पीडि़तों को न्याय नहीं मिला तो श्रीविश्वकर्मा सुथार समाज प्रदेशव्यापी स्तर पर आंदोलन चलायेगा। चेतावनी रैली में दुलचासर पूर्व सरपंच राधाकिशन नागल, जागलू से शिवरतन सुथार, वरिष्ठ पत्रकार पन्नालाल नागल, हरिकिशन सुथार, किशनलाल सुथार भोलासर, मोहनलाल विश्वकर्मा, शिवम बामणिया, भागीरथ मांडण, शिवरतन बरड़वा, मालाराम सुथार, देवकिशन सुथार, घनश्याम सुथार, रामकुमार सुथार, मनोज सुथार, गजेन्द्र सुथार, विरेन्द्र करल समेत बड़ी तादाद में श्रीविश्वकर्मा समाज के प्रतिनिधि शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here