बदल रही है दुनिया, पाठ्यक्रम में बड़े बदलाव की जरूरत : राष्ट्रपति

0
75

नई दिल्ली। राष्ट्रपति भवन में 49वें राज्यपालों और उप-राज्यपालों के वार्षिक सम्मेलन की शुरूआत हो गई है।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रामनाथ कोविंद ने तेजी से बदलते वैश्विक परिप्रेक्ष्य में शिक्षा की महत्व को बरकरार रखने के लिए समय-समय पर पाठ्यक्रमों में बदलाव और सुधार करते रहने की आवश्यकता बताई है। तो वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आदिवासी वर्ग के विकास के लिए यह सुनिश्चित करना होगा कि उन्हें सरकार की हर पहल का पूरा लाभ मिले। राष्ट्रपति कोविन्द ने राष्ट्रपति भवन में राज्यपालों और उप-राज्यपालों के 49वें सम्मेलन को संबोधित किया। राष्ट्रपति ने कहा कि राज्यपाल की भूमिका राज्य सरकार के विश्वसनीय सलाहकार और मार्ग-दर्शक की होती है तथा संघीय ढांचे की वह एक महत्वपूर्ण कड़ी है। राज्यपालों से राष्ट्रपति की अपील : राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि भारत, विश्व की सबसे बड़ी युवा आबादी वाला देश है। इन युवाओं के जीवन में नैतिक मूल्यों की स्थापना करने तथा उन्हें उचित शिक्षा के लिए प्रेरित करने में आप सही अर्थों में उनके अभिभावक हैं। आप उन्हे ऐसा चरित्र विकसित करने की प्रेरणा दे सकते हैं, जिसके बल पर वे भारतीय मूल्यों के प्रति संवेदनशील बने रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here